चाणक्य नीति: लड़की देखने जा रहे तो चाणक्य ये 5 सवाल जरूर पूछे, नहीं तो होती रहेंगी खटपट…

चाणक्य नीति
चाणक्य नीति

चाणक्य नीति: मानव जीवन एक ऐसा रिश्ता माना जाता है जिसमें दो अजनबी लोग मिलकर पूरी जिंदगी चला लेते हैं जो जीवन भर के लिए एक पवित्र बंधन में बन जाते हैं लेकिन इन बंधनो को अटूट भी माना गया है इसका मतलब होता है की शादी से. जी हां शादी से दो अजनबी लोग अपने जीवन की शुरुआत करते हैं और सारी जिंदगी अपने मानव जीवन को बहुत अच्छे से चलते हैं लेकिन दूसरी ओर पहले तो हमारे पास एक दूसरे को जन तक के लिए समय नहीं होता और यहां पर हर महिला और पुरुष के लिए यह सवाल भी खड़ा करता है!

आखिर जब मुझे वह लड़की मिल गई तो मैं क्या करूं? क्या मैं उसे अपनी जीवनसाथी बन सकता हूं क्योंकि जीवनसाथी के गलत होने से शादी करने से पूरा ही जीवन भी बर्बाद हो जाता है इन सभी समस्याओं का समाधान आचार्य चाणक्य लेकर आए हैं उनके सवालों की लिस्ट बताती है कि यदि किसी को शादी के लिए लड़की देखना है तो लड़की से किस प्रकार के सवाल पूछने चाहिए?

चाणक्य नीति: पहला सवाल

चाणक्य नीति के अनुसार तो जब भी कोई लड़का शादी करने के लिए लड़की को देखने के लिए जाता है तो सबसे पहले उसे सवाल पूछना चाहिए कि क्या वह इस शादी के लिए तैयार हैं या नहीं है या फिर शादी करना या ना करना उसका अपना फैसला है! क्योंकि ऐसे मामले में देखा जाता है की लड़की को घर से ही शादी करने के लिए मजबूर किया जाता है! चाहे कारण फिर कुछ भी क्यों ना हो यहां लड़की जवाब में कुछ भी कह दे उसके बोलने का तरीका और उसके हाव-भाव उसकी सच्ची भावनाओं के बारे में बता देते हैं!एक लड़की के लिए जिंदगी में इतने बड़े फैसले पर सहमत होना इतना जरूरी क्यों है इस सवाल का जवाब जानना भी उतना ही महत्वपूर्ण होता है! जितना की जीवन साथी चुना क्योंकि अगर इस रिश्ते से जुड़ा कोई भी व्यक्ति दबाव में आकर राजी तो हो जाता है लेकिन ऐसे में रिश्ते टिक नहीं पाते।

चाणक्य नीति: दूसरा सवाल

चाणक्य के अनुसार लड़की देखते समय दूसरा सवाल यह होना चाहिए कि वह अपने जीवन में अपने साथी को कैसे दिखती है या उसके सामने यह बात करें कि वह कैसा लड़का पसंद करती है आप उसे समझाने के लिए कोई भी विकल्प नहीं दे सकते जैसे कि एक सामान्य और मध्यम वर्ग का लड़का पसंद है या आप एक सुंदर और अमीर लड़के को पसंद करते हैं इससे आपको पता ही चल जाएगा कि वह अपने जीवनसाथी से किस प्रकार की उम्मीद कर रही है लेकिन यदि आपको लगता है कि मैं उनकी उम्मीदों पर खड़ा उतर सकता हूं तो तुरंत उसे लड़की से शादी करने का ख्वाब छोड़ देना चाहिए।

चाणक्य नीति: तीसरा सवाल

चाणक्य नीति के अनुसार तीसरा सवाल लड़की से होना चाहिए की लड़की शाकाहारी है या मांसाहारी है क्योंकि आज के दौर में तो लोगों की सोच भी बदल रहे हैं लेकिन इस विविधता से भरे हुए हमारे देश में दो परिवारों की एक ही जाति होती है या तो कोई मांस खाने वाला है या फिर कोई शाकाहारी है इसलिए आपको शाकाहारी भोजन भी करना चाहिए शादी से पहले यह जानना आपके लिए बेहद अनिवार्य है की लड़की शाकाहारी है तो क्या वह जीवनसाथी वैसा ही चाहती है या नहीं अगर लड़की शादी के बाद शाकाहारी होती है और वह अपना जीवन साथी ऐसा बिल्कुल भी नहीं चाहती थी तो हमें उसकी मां की इच्छा भी जानी चाहिए वरना फिर बाद में दोनों के बीच लगातार झगड़ने के कारण मिलते रहते हैं!

चाणक्य नीति: चौथा सवाल

चाणक्य नीति के अनुसार चौथा सवाल सुखी वैवाहिक जीवन से जुड़ा हुआ आना चाहिए! लड़की की पसंद और नापसंद को जानना बेहद जरूरी है! जैसे की लड़की किस प्रकार की जीवन शैली में रहना पसंद करती है, क्या खाना पसंद करती है, उसे किस प्रकार के कपड़े पहनना पसंद है! क्योंकि यही छोटी-छोटी बातें जो दोनों की फरमाइशों के बारे में जान देने से सुखी वैवाहिक जीवन का आनंद मिलता है! इसलिए शादी से पहले ही दोनों लड़के और लड़की को अपने इन वैचारिक भावों को एक दूसरे के साथ बांटना चाहिए और उसके बाद ही शादी करने का डिसीजन लेना चाहिए।

चाणक्य नीति: पांचवा सवाल

वही चाणक्य नीति के अनुसार पांचवा सवाल उसकी पढ़ाई लिखाई को लेकर आना चाहिए! यहां तक कि उसे यह भी जानने की कोशिश करनी चाहिए कि वह परिवार के साथ रहना पसंद करती हैं या फिर शादी के बाद परिवार के बिना रहना पसंद करती है! आपको इस टॉपिक के बारे में लड़की से खुलकर बात करने की आवश्यकता होती है! क्योंकि घर को लेकर दोनों के बीच कोई विवाद बाद में ना हो इस बारे में यह बात करनी बेहद ही जरूरी होती है!

WhatsApp GroupJoin
HomeJoin
चाणक्य नीति
About Somvir Jaglan 226 Articles
I am an Engineering student by education & a professional content writer by passion. I am in blogging (content writing, SEO expert & marketing expert) for 6 years. I love to watch & write in different entertainment genres.